ICU का फुल फॉर्म क्या है, ICU मे क्या होता है(About ICU full form)

You are currently viewing ICU का फुल फॉर्म क्या है, ICU मे क्या होता है(About ICU full form)

हेलो दोस्तों नमस्कार आज इस आर्टिकल में हम जानेंगे ICU क्या होता है, ICU का full form क्या होता है। ICU के अंदर क्या होता है। ICU मे किसे रखा जाता है।

ICU का Full form-Intensive care unit 

ICU किसे कहते है

ICU हॉस्पिटल में ऐसी जगह होती है जहां पर ऐसे मरीजों को रखा जाता है जिन्हे कोई गंभीर समस्या होती है। उन्हें विशेष प्रकार की सेवा दी जाती है। जिसे Intensive Care यानी गहन देखभाल कहा जाता है।

अस्पताल के जिस वार्ड में यह सेवा दी जाती है उसे Intensive Care Unit यानी ICU कहा जाता है। मतलब ICU अस्पताल में ऐसे वार्ड होते हैं। जिनमे बहुत अधिक बीमार का उपचार और निगरानी प्रदान करने का काम किया जाता है।

ICU का Full form क्या होता है

ICU का full फॉर्म Intensive Care Unit होता है। ICU मे वैसे तो कई प्रकार के मरीज होते हैं लेकिन उन सभी को एक ही चीज की आवश्यकता होती है। निरंतर अवलोकन और विशेष देखभाल की। दोस्तों ICU मे उन लोगों की देखभाल की जाती है जिनका जीवन गंभीर बीमारी या किसी दुर्घटना में चोट के कारण खतरे में होती है।

यहां उन्हें हर पल निगरानी और जीवन सहायता उपकरण की देखरेख में रखा जाता है। यह अस्पताल के अन्य वार्डों से बिल्कुल अलग होती है। क्योंकि यहां पर काम करने वाले लोग बहुत ही ज्यादा experience वाले होते हैं। ICU मे बहुत ही कम लोगों को मरीज से मिलने की अनुमति होती है।

ICU मे कौन काम करता है

दोस्तों ICU मे विशेष रूप से प्रशिक्षित डॉक्टरों और उनके सहायकों नियुक्त किया जाता है। यह मरीजों की देखभाल का काम करते हैं।

ICU मे उपयोग होने वाले उपकरण

ICU मे भी प्रकार का उपकरण उपयोग में लाए जाते हैं जिनमें कुछ विशेष निम्न है…

Ventilator

Ventilator का उपयोग तब किया जाता है जब रोगी इतना कमजोर और बीमार होता है कि खुद सांस भी नहीं ले सकता। जब कोई व्यक्ति ventilator पर होता है। तब वह बात करने में भी सक्षम नहीं होता है। अगर आपको उनसे बात करनी है तब आपको उनसे ऐसे सवाल पूछने होंगे। जिनका जवाब वह केवल सर हिलाकर दे सकें।

ICU मे अधिकतर रोगी को बेहोशी की हालत में रखा जाता है।

Heart monitor

एक heart monitor स्क्रीन पर चलने वाली लकीरों द्वारा रोगी के दिल की गतिविधि को मापती है। heart monitor रोगी से sticky pad द्वारा जुड़े होते हैं। यह हमारी त्वचा से चिपके हुए pad होते हैं।

Feeding tubes

अगर कोई मरीज सामान्य रूप से खाने में असमर्थ होता है तब उसके नाक या नस के माध्यम से या फिर पेट में लगे tubes के माध्यम से के माध्यम से खाना दिया जाता है।

Catheter

Catheter मूत्र को निकालने के लिए मूत्राशय से में डाली गई पर पतली tube होती है। यह सभी मशीनें जितना हो सके गहन देखभाल को संभव बनाने में सहायक होती है।

ICU मे USE होने वाले कुछ अन्य उपकरण

Mechanical ventilators
External pacemakers
Defibrillator
ECG(Electrocardiogram) Machine
Anesthesia Machine
Laryngoscope
Multiparameter monitor
Pulse Oximeter
Transport Ventilator(pneumatic)
Ventilator (Basic)
Advanced Ventilator
Infusion Pump
Syringe Pump
Ophthalmoscope
Stethoscope
B.P APPARATUS
Reverse Osmosis plant (Portable)
Electronic Weighing Machine
Continuous renal replacement therapy
Colour Doppler for general purpose
Intra Aortic Balloon Pump
Non Invasive Cardiac Monitor
Portable X Ray Machine
DVT Pumps/leg compression device
Nebulizer
Patient warming System Air Warmer
Pacemaker
Feed Pump
Blood Warmer
Et Co2 Monitor
Transport Monitor
Dialysis Machine
Patient Controlled Anesthesia Pumps
Mini Doppler
Suction Machine
Central Monitor
Bipap/cpap
Air bed
Patient bed motorized
X ray viewer box
Cervical collar
Ambu bag mask set
Electronic needle destroyer
Flash autoclave
Oxygen flow meter
Suction unit
Bedpan washer
Medical Furniture
ICU pendants
Feeding tubes, suction tubes आदि।

रोगी को ICU मे क्यों रखा जाता है?

अगर कोई गंभीर रूप से बीमार है और उसे गहन उपचार और देखभाल की आवश्यकता है। या फिर किसी की सर्जरी हुई है, तब उसे ICU मे रखने की आवश्यकता होती है। ICU मे काम करने वाले लोगों द्वारा गहन देखरेख की जाती है। ICU मे लगी मशीनें हर समय रोगी के HEALTH पर नजर रखे रहती है। health मे कोई भी उतार-चढ़ाव होने पर beep कि साउंड के साथ शोर करती हैं। जिससे डॉक्टर को पता चल जाता है।

ICU मे क्या सावधानियां रखी जाती है।

ICU मे मरीज से मिलने वाले के लिए कुछ नियम होते हैं। जैसे आपको मोबाइल फोन बंद करके रखना चाहिए, आप रोगी के लिए बाहर से कोई चीज नहीं ला सकते। अगर आप किसी कारण से अस्वस्थ महसूस कर रहे हैं तब आपको रोगी से नहीं मिलने दिया जा सकता है।कई बार ICU मे रोगी से मिलने की अनुमति नहीं दी जाती है। संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए आपको ICU मे जाने से पहले हाथों को अच्छे से साफ करने को कहा जाता है।

ICU का फुल फॉर्म क्या होता है: सारांश

ICU क्या होता है ICU का पूरा नाम Intensive Care Unit होता है। गहन देखभाल का तात्पर्य उन रोगियों को उपचार से होता है जो गंभीर रूप से ऐसे अस्वस्थ होते हैं और उन्हें 24 घंटे कड़ी देखभाल की ज़रूरत होती है। जब तक आप किसी आपातकालीन सेवा के लिए भर्ती नहीं किए जाते हैं तब तक आपको ICU में भर्ती होने के लिए अपने डॉक्टर या विशेषज्ञ द्वारा रेफर करने को कहा जाता है।

कई अलग अलग प्रकार के रोगियों को ICU में भर्ती कराया जाता है। कुछ रोगी सीधे आपातकालीन विभाग से आते हैं तो कुछ अस्पताल के भीतर अन्य भाग से उनकी बीमारी में जटिलताओं के कारण आते हैं। दोस्तो ICU में वैसे तो कई प्रकार के मरीज होते हैं लेकिन उन सभी मरीजों को केवल एक ही चीज की आवश्यकता होती है। विशेष देखभाल की जरूरत होती है।

दोस्तो ICU में उन लोगों की ज्यादा देखभाल की जाती है जिनका जीवन गंभीर बीमारी या दुर्घटना में किसी चोट के कारण खतरे में आ जाता है जहां उन्हें हर पल निगरानी में रखा जाता है या अस्पताल के अन्य बाड़ों से अलग स्थिति होती है जैसे कि दोस्तों पहला ICU में एक निजी संयोग की उच्च परीक्षण प्राप्त टीम द्वारा चौबीसों घंटे देखभाल प्रदान की जाती है। दोस्तो दूसरा यहां पर बहुत कम बिस्तर होते हैं जिनमें बहुत से उपकरण गंभीर रूप से बीमार मरीजों की निगरानी और देखभाल करते हैं। तीसरा ICU में बहुत कम लोगों को अपने मरीज से मिलने की अनुमति दी जाती है।

चलिए दोस्तो जान लेते हैं ICU के साधन के बारे में जब आप ICU में अपने किसी सगे संबंधी से मिलने जाते हैं तो उन चीजों में से एक जो आपको चिंतित कर सकती है वो आपके परिवार के सदस्य से जुड़े उपकरण और मशीनों की संख्या है। ICU में कई प्रकार के साधन होते हैं जो निम्नलिखित होते हैं। दोस्तो पहला साधारण बेंटले एक लेटर का उपयोग तब किया जाता है जब रोगी इतने कमजोर या बीमार होते हैं कि खुद अपने आप सांस भी नहीं ले सकते हैं। जब आपके परिवार के सदस्य होते हैं तो वे आपसे बात करने के लिए तैयार नहीं होते हैं क्योंकि उनके मुंह पर मास्क लगा होता है। अगर आपको उनसे बात करनी होती है तो आप उनसे किसी भी प्रकार के सरल जवाब पूछें ताकि वे अपने इशारों से आपको जवाब दे सकें।

दोस्तो ICU में रोगी को अत्यधिक आराम रखने के लिए
दवाइयों के द्वारा बेहोश किया जाता है जिस कारण वे अधिक नींद में होते हैं और इसलिए वे हमारी आपकी बात का जवाब नहीं दे पाते हैं। दूसरा है हार्ट मॉनिटर एक हाथ मॉनीटर स्क्रीन पर चलने वाली रंगीन रेखाओं के साथ एक टेलीविजन की तरह दिखता है। ये रेखाएं रोगी के दिल की गतिविधियों को मापति हैं। हार्ट मॉनिटर पर लगे उपकरणों के द्वारा रोगी से जुड़ा हुआ होता है। बीट और अन्य शोर और इलेक्ट्रॉनिक मशीनों द्वारा दिए जाने वाले अलर्ट होते हैं ताकि नर्स या डॉक्टर को पता लग सके कि रोगी पर कुछ ध्यान देने की ज़रूरत है।

दोस्तो तीसरा है फीडिंग ट्यूब से रोगी को भोजन खिलाने की नली। अगर कोई मरीज सामान्य रूप से खाने में असमर्थ होता है तो उसकी नाक मुंह पेट में बने छोटे उपकरण के माध्यम से या फिर एक नस में ट्यूब के माध्यम से भोजन कराया जाता है। दोस्तो होता है स्कोर कैथेटर शरीर से राख या किसी भी प्रकार के तरल पदार्थ को उपयोग किए जाने वाली ट्यूब होती है कैथेटर मूत्र को निकालने के लिए मूत्राशय में ज्वाइंट दी जाती है। ये मशीनें और मोनिटर मरीज के देखभाल को जितना भी हो सके उतना सुरक्षित और प्रभावी बनाने में लोकपर्व या नर्स की मदद करती है।

चलिए दोस्तो अब जान लेते हैं पेसेंट को ICU में किस तरह रखा जाता है क्यों रखा जाता है। अगर कोई व्यक्ति गंभीर रूप से बीमार होता है और उसे गहन उपचार और करीबी निगरानी की जरूरत होती है। यदि किसी भी प्रकार की सर्जरी होती है और ग्रह देखभाल से उनको मदद मिल सकती है तो इस कारण मरीज को ICU में रखने की आवश्यकता होती है।

कई अलग अलग प्रकार की परिस्थितियां होती हैं जिनमें किसी को आईसीयू में रखे जाने की आवश्यकता होती है। कुछ सामान्य कारणों में शामिल होता है जैसे कि मरीज की कोई बड़ी सर्जरी की गई होती है या फिर गंभीर दुर्घटना हुई हो या फिर गंभीर रूप से जलने पर इसके बाद के उपचार के लिए या फिर किसी भी प्रकार की गंभीर बीमारी जैसे कि उदाहरण के तौर पर हार्ट बीट बढ़ जाना आदि जैसी बीमारियों के लिए मरीज को ICU में रखा जाता है।

चलिए दोस्तो अब जान लेते हैं कि पेसेंट को ICU में किस प्रकार रखा जाता है और कैसे रखा जाता है। ICU कर्मचारियों। द्वारा मरीज पर ICU उपकरणों के द्वारा ICU टीम डॉक्टरों के द्वारा मरीज पर कड़ी निगरानी रखी जाती है और कई टीमों तारों और उपकरणों के द्वारा मरीजों को जोड़ा जाता है। आम तौर पर एक या दो रोगियों के लिए दो या एक नर्स होती है। ICU में मरीजों को मशीनों की एक विस्तृत श्रृंखला से जोड़ा जाता है लेकिन जो सबसे आम मशीनें होती हैं वे हार्ट मॉनीटर और कृत्रिम वेंटीलेटर होते हैं। कई ICU मशीनें बीप की ध्वनि करती हैं और यदि किसी कारण रोगी की त्वचा में कोई बदलाव होता है तो लिए कर्मचारियों का ध्यान रोगियों की ओर आकर्षित करने के लिए ये मशीनें ICU में लगाई जाती हैं और अलार्म बजाती है। जो मरीज स्वयं भोजन नहीं कर पाते हैं उन मरीजों को तरल पदार्थ या पोषक तत्व। ICU में कई प्रकार के प्रशिक्षित कर्मचारी होते हैं। प्रत्येक मरीज के लिए आमतौर पर एक समर्पित विशेषज्ञ नर्स होती हैं जो नियमित रूप से मरीजों की ओर उस पर लगे उपकरणों की देखभाल करती है।

दोस्तो चलिए जान लेते हैं ICU में क्या सावधानियां रखी जाती हैं। ICU में प्रत्येक रोगी अस्वस्थ होता है इसीलिए प्रत्येक अस्पताल में मरीज से मिलने वालों के लिए एक नीति होती है जैसे कि आपको अपने मोबाइल फोन बंद कर देने चाहिए और आपको रोगी के लिए किसी भी प्रकार का हाल लाने को भी मना किया जाता है। यदि आप किसी कारण से ऐसा अस्वस्थ महसूस कर रहे हैं तो आपको रोगी से मिलने नहीं दिया जाता है लेकिन ICU में ऐसा समय भी होता है जब मिलने की अनुमति नहीं दी जाती है।

इसलिए दोस्तो मिलने आने से पहले आपको पता कर लेना चाहिए। मरीज के बिस्तर के आसपास मिलने वाले व्यक्तियों की संख्या सीमित होती है। संक्रमण फैलने के जोखिम को कम करने के लिए और आपको ICU में प्रवेश करने और जाने के दौरान आपके हाथों को साफ करने के लिए कहा जाता है और आपको अन्य प्रकार के उपकरणों को लाने से रोका जाता है और जिस मरीज से आप मिलने जाते हैं बहन नीलम भी हो सकता है और उलझन में आ जाता है लेकिन दोस्तो चिंता ना करें क्योंकि ICU के कर्मचारी ये सुनिश्चित करते हैं कि रोगी जितना भी संभव हो उतना ही आरामदायक स्थिति में रहे। आप आमतौर से व्यक्ति को छूने या स्वतंत्र रूप से बात कर सकते हैं ये उन्हें परिचित आवाज सुनने या आपको पहचानने में मदद करता है। दोस्तो भले ही मरीज आपकी बात का जवाब नहीं देते हैं आप उन्हें अपने दिन के बारे में बता सकते हैं या फिर अपने समय के बारे में बता सकते हैं या फिर आप अपने घर की कोई अच्छी जानकारी उन्हें दे सकते हैं। लेकिन आप अगर किसी रूम में मरीज के पास कुछ ले जाना चाहते हैं तो आप उसे ले जाने से पहले कर्मचारियों से पूछ लें। आपके किसी भी प्रकार का उत्तर देने के लिए ICU कर्मचारी

आपके पास ही होंगे। केवल परिवार के सदस्यों को ही रोगी के बारे में जानकारी दी जाती है। मरीजों को यहां से एक अन्य बाढ़ में तब ले जाया जाता है जब उन्हें इस तरह के नियंत्रण ध्यान और मदद की जरूरत नहीं होती है। एक बार जब मरीज पर्याप्त रूप से अपने घर जाने के लिए तैयार हो जाता है तो आमतौर पर उन्हें घर पर देखभाल के लिए कुछ दवाइयों के साथ उन्हें छुट्टी मिल जाती है। उन्हें अस्पताल के कर्मचारी या फिर अन्य मेडिकल लेने की आवश्यकता होती है। दोस्तो हम उम्मीद करते हैं कि आपको ICU की यह जानकारी काफी पसंद आई होगी

यह article “ICU का फुल फॉर्म क्या है, ICU मे क्या होता है(About ICU full form)“पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया उम्मीद करता हुँ। कि इस article से आपको बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा।