एन्जाइम क्या है, मतलब, परिभाषा, सम्पूर्ण जानकारी (Enzyme meaning in hindi)

You are currently viewing एन्जाइम क्या है, मतलब, परिभाषा, सम्पूर्ण जानकारी (Enzyme meaning in hindi)

एन्जाइम क्या है, मतलब, परिभाषा, सम्पूर्ण जानकारी (Enzyme meaning in hindi),enzymes meaning in hindi,meaning of enzymes in hindi,enzyme in hindi,enzyme kya hai,एंजाइम क्या है,enzyme definition in hindi

एन्जाइम

‘एन्जाइम आवश्यक जैव उत्प्रेरक होते हैं जो ताप तथा pH की मध्य परिस्थितियों में विशिष्ट जैविक क्रियाओं को अति उच्च दर से सम्पन्न कराते हैं।”

Essential biological catalysts which catalyse specific biological reactions at a very high rate under mild conditions of temperature and pH are called enzymes. .

एन्जाइम ग्लोब्यूलर प्रोटीन होते हैं जो जैव-तंत्र में जैव-उत्प्रेरक का कार्य करते हैं। एन्जाइम के बिना जैव प्रक्रियाएँ अति मंद दर से होती हैं।

उदाहरणार्थ : एन्जाइमों की अनुपस्थिति में एक बार खाने वाले भोजन हमारे पाचन-तंत्र द्वारा पचाने में 50 वर्ष लग जायेंगे।

नामकरण (Nomenclature)

नामकरण की साधारण पद्धति में एन्जाइम का नामकरण उस यौगिक के नाम में ase अनुलग्न जोड़कर करते हैं जिस पर वह क्रिया करता है।

सामान्यतः सुकेज, सुक्रोज पर क्रिया करता है, ऐमाइलेज स्टार्च (एमाइलम) पर क्रिया करता है, यूरिऐज यूरिया पर क्रिया करता है। कुछ ऐन्जाइमों को उनके पारस्परिक नामों से जाना जाता है। उदाहरणार्थ : इमल्शिन, पेप्सिन, टिप्सन आदि ।

IUPAC पद्धति के अनुसार, एन्जाइमों का उत्प्रेरित अभिक्रिया की प्रकृति के अनुसार नामकरण किया जाता है। इन्हें 6 मुख्य वर्गों में विभाजित किया गया है:

1)ऑक्सीडोरेडक्टेज (Oxidoreductase):

ये एन्जाइम दो क्रियाधाराओं के मध्य ऑक्सीकरण-अपचयन अभिक्रियाएँ कराते हैं। जैसे— साइटोक्रोम ऑक्सीडेज, NAD, ऑक्सीडोरेडक्टेज आदि ।

2)ट्रांसफेरेज (Transferage):

वे एन्जाइम जो एक समूह (हाइड्रोजन के अतिरिक्त) को क्रियाधाराओं के युग्म के मध्य स्थानान्तरित करते हैं, ट्रांसफेरेज कहलाते हैं । जैसे—ऐसीटिल ट्रांसफेरेज, हेक्सोकाइनेज आदि ।

3)हाइड्रोलेज (Hydrolase):

ये क्रियाधाराओं का जल अपघटन करते हैं; जैसे—ग्लिसरॉल एस्टर हाइड्रोलेज, B–गैलेक्टोसाइडेज आदि ।

4)लायेज (Lyases):

ये एन्जाइम क्रियाधार समूह को बिना जल-अपघटन के निष्कासित करते हैं। जैसे— फ्यूमेरेज, हिस्टीडिन आदि।

5)आइसोमेरेज (Isomerases):

ये प्रकाशिक ज्यामितीय या स्थान समावयवों का अन्तरापरिवर्तन परमाणुओं या समूहों के अन्तरा-आणविक पुनर्व्यवस्थापन से करते हैं । जैसे—एलानीन रेसीनेश, ग्लूकोज फॉस्फेट आइसोमेरेज ।

6)लाइगेज (Ligase):

ये दो क्रियाधारों को जोड़ने का कार्य करते हैं। जैसे— ऐसीटिल CO-A सिन्थेटेज, ग्लूटेमीन, सिन्थेटेज आदि ।

संघटन(Composition)

रासायनिक रूप से सभी एन्जाइम ग्लोब्यूलर प्रोटीन होते हैं जबकि कुछ एन्जाइम कुछ अ-प्रोटीन घटक जिन्हें सहकारक (cofactor)कहते हैं, से संलग्न रहते हैं। ये सहकारक दो प्रकार के होते हैं।

(a) Na+, K+, Zn2+, Mn2+, Fe2+,Mg+, Cut, Co2+ आदि।
(b) कार्बनिक अणु : ये दो प्रकार के होते हैं।

(i) सहएन्जाइम (Coenzymes): प्रोटीन से ढीले जुड़े कार्बनिक अणु।
(ii) प्रॉस्थेटिक समूह (Prostheticgroup): प्रोटीन से प्रबलता से जुड़े कार्बनिक अणु।

ऐन्जाइमों के गुण(Properteis of enzyme)

1)विशिष्टता (Specificity):

एन्जाइम अपनी क्रिया में अति विशिष्ट होते हैं अर्थात् प्रत्येक एन्जाइम केवल एक अभिक्रिया को उत्प्रेरित करता है।

2) दक्षता (Efficiency) :

एन्जाइम अनुत्प्रेरित अभिक्रिया की तुलना में अभिक्रिया की गति लाखों गुना बढ़ जाती है।

3) सूक्ष्म मात्रा (Small quantity):

क्रियाधारों की अधिक मात्रा को उत्प्रेरित करने के लिए उत्प्रेरक की सूक्ष्म मात्रा की आवश्यकता होती है।

उदाहरणार्थ : एन्जाइम रेनिन अपने भार से लाखों गुने दूध को पनीर बनाने के लिए स्कंदित कर सकता है |

4)अनुकूलतम ताप तथा pH (Optimun temperature and pH):

एन्जाइम अनुकूलतम ताप तथा pH (6 – 8) पर अत्यधिक सक्रिय होते हैं। एन्जाइम क्रिया की क्रियाविधि Mechanism of Enzyme Action एन्जाइम अभिक्रियाओं में एन्जाइम तथा क्रियाधार आपस में एक विशिष्ट प्रकार के बंध द्वारा संयोजित हो जाते हैं :

E+S->E-S एन्जाइमी अभिक्रियाएँ चार चरणों में होती हैं-
(a) एन्जाइम (E) तथा सब्सट्रेट (S) का हाइब्रिड बनना

(b) इस हाइब्रिड का एन्जाइम मध्यवर्ती संकर (E,) में बदलना।
E+S→E.- ES
(c) इसका एन्जाइम उत्पाद संकर में बदलना।
(d) एन्जाइम उत्पाद संकर का विघटन जिसके फलस्वरूप एन्जाइम पुनः अपने मूल रूप में उपलब्ध हो जाता है।

हमने क्या सीखा Enzyme meaning in hindi के बारे मे,

दोस्तों इस आर्टिकल मे हमने जाना Enzyme meaning in hindi से जुड़े हमें जितनी भी जानकारी प्राप्त हुई। उसे हमने आपके सामने प्रस्तुत किया है। अगर आपके मन में इस आर्टिकल से संबंधित कोई डाउट है। तो आप बेफिक्र होकर हमें कमेंट या ईमेल कर सकते हैं।

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको Enzyme meaning in hindi से जुड़ी सभी जानकारियां प्रस्तुत की है। जिसके वजह से आपको इंटरनेट पर किसी अन्य साइट पर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इससे आपके समय की बचत होगी। और आप Enzyme meaning in hindi से जुड़े बहुत सारा ज्ञान एक ही जगह पर प्राप्त कर रहे हैं।

यह article “एन्जाइम क्या है, मतलब, परिभाषा, सम्पूर्ण जानकारी (Enzyme meaning in hindi)(Enzyme meaning in hindi)”पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया उम्मीद करता हुँ। कि इस article से आपको बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा। दोस्तों हमारा यह पोस्ट अगर आपको पसंद आया है। तो कृपया करके अपने दोस्तों और सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर अवश्य कीजिए।