आकाश गंगा क्या है ? कैसे बनी है हमारी मिल्की-वे आकाश गंगा (Structure and formation of akashganga in Hindi)

आकाश गंगा क्या है ?  कैसे बनी है हमारी मिल्की-वे आकाश गंगा (Structure and formation of akashganga  in Hindi)

आकाश गंगा (akashganga)क्या है ? (What is galaxy in hindi )

हम जिस planet पर रहते हैं. उसका नाम earth है. जो हमारे सौर मंडल(solar system ) का हिस्सा है। लेकिन हमारा सौर मंडल किसका हिस्सा है ? यह Milky way galaxy यानी आकाश गंगा (akash ganga) का एक छोटा सा हिस्सा है.

अब अगर इसे एक लाइन मे समझे तो.

“आकाश गंगा (akashganga) billions तारों का समूह है. जिसमे धूलकन, गैस और आकाश गंगा मे exit तारों के अपने -अपने solar system शामिल है. जो एक दूसर से gravitational forces से बंधे रहते है. “

अब दोस्तों आप थोड़ा समझ चुके होंगे. Basically आकाश गंगा (akashganga )
क्या है.
अब आगे हम जानेगे की आकाश गंगा का (akash ganga ) निर्माण कैसे होता है.

आकाश गंगा का निर्माण कैसे हुआ ? (Structure and formation of galaxy in Hindi)

हमारे universe मे लगभग दो trillion galaxy है. और हर galaxy मे लगभग 100 billion stars है.

लेकिन यह शुरू कैसे हुआ. यह बहुत बड़ा सवाल है.

आज scientists telescopes की नई generation के साथ universe मे दूर देखने का प्रयास कर रहे है. और समझने की कोशिश कर रहे है.

की universe कहा से आया. इन सभी सवालों के जवाब हम आज explore करने वाले है.

इतिहास के पन्ने

20 सदी तक scientists सोचते थे. की universe, infinite और age less है. यह हमेशा से था और रहेगा.

फिर Einstein की Theory of relativity ने हमें ब्रह्माण्ड को देखने का नया नजरिया दिया. Einstein के अलावा एक और scientists थे.
Edwin Hubble. जिनका योगदान विज्ञान कभी नही भूल सकता.

इन्होने ने अपने खोज मे notice किया. की ब्रह्माण्ड की सारी आकाश गंगाये (akash ganga ) एक दूसरे से, लगातार बढ़ती speed से दूर जा रही है.

ठीक इसके बाद 1964 मे हमें big bang का सबसे बड़ा सबूत मिला. “Cosmic microwave background radiation “ के रूप मे.

Big bang theory के अनुसार हमारा ब्रह्माण्ड शुरूआती दिनों मे बहुत ज्यादा गर्म था. जिसका सबूत हमने 1964 मे खोजा.

यह एक बहुत बड़ी खोज थी. Galaxies की उत्पत्ति को समझने के लिए,

Edwin hubble के Discovery के कारण ही
Big-bang “को पूरे विश्व मे बड़े स्तर पर मान्यता मिली.

क्या है. “Big-bang theory” ?

Big-bang theory अच्छे से explain करती है. की ब्रह्माण्ड मे छोटे से छोटे atom से लेकर बड़े से बड़ा galaxies कैसे बनी होंगी.

बिग-बैंग थ्योरी क्या है ? (What is Big bang theory in hindi )

Big-bang कोई धमाका नही था. बल्कि यह बहुत छोटे से हिस्से मे हो रहा space मे expand था.

Scientists का मानना है की Big bang के समय एक छोटे से point of area मे हमारा सारा ब्रह्माण्ड दबा (compressed ) हुआ था.

और फिर धीरे-धीरे इस point मे हलचल हुआ. और यह point फैलने लगा.
अभी 1 सेकंड के 10^-35 सेकंड बीते ही थे. की यह point बढ़कर एक फुटबॉल जितना बड़ा हो गया.

इस फुटबॉल जितना point मे बहुत सारी energy भरी हुई थी. ऐसे particles के रूप मे जो बहुत कम समय के लिए बनते और फिर Destroy हो जाते थे.

यह सभी इतने छोटे time मे इनती तेजी से हो रहा था. की हमारा दिमाग़ इसे कल्पना भी नही कर सकता.

करीब इसिलए वक़्त matter और antimatter के particles के बिच लड़ाई चल रही थी. जिसमे matter के particles ने जीत हासिल की.

यही वह वजह है. जिसके कारण matter के particles exist करते है. जबकि एंटी matter के particles नही.

अब तक 10^-9 सेकंड बीत चुके थे. अब वह समय था जब Nature के Fundamental Force बन रहे थे. इसी समय Gravity, Electromagnetism, Strong nuclear forces, और week Nuclear forces का जन्म हुआ.

अब तक हमारा universe एक फुटबॉल से billions किलोमीटर बड़ा हो चूका था. और universe का temperature धीरे-धीरे कम हो रहा था.

करीब 10^-6 सेकंड बीतने के बाद quark’s का जन्म हुआ. और यह आपस मे जुड़कर hadrons और laptons को बनाने लगे.

करीब एक 1 मिनट बीतने के बाद दुनिया का पहला atom, Hydrogen atom बनकर तैयार हुआ.

धीरे-धीरे time चलता रहा. लाखो साल बीतने के बाद Hydrogen atom एक जगह इकठा होने लगे gravity के कारण,

यह gravity इतनी ज्यादा बढ़ गयी. की इनके बिच atom’s fuse होने लगे. और जन्म होने लगा दूसरे atom’s का.

इसी nuclear fusion से हमारे stars (तारे ) का जन्म हुआ. और फिर बने planet’s.

यह सभी बहुत बड़े लेवेल पर हो रहा था. मतलब पूरे ब्रह्माण्ड मे billion’s stars
Nuclear fusion की वजह से बन रहे थे.

ब्रह्माण्ड के शुरूआती पलों मे कुछ ऐसे objects भी बने जिनका mass इतना ज्यादा
था. की वह अपनी Gravity को संभाल नही पाए. और वह super massive blackhole बन गये.

यह super massive blackhole इतने विशाल थे. की इनकी gravity के चपेट मे billion’s तारे आ गये. और इसे Orbit करने लगे. जिससे जन्म हुआ. आकाश गंगा (akashganga)का.

मतलब हमारी galaxy का.
Basically अब आप समझ चुके होंगे की हमारी आकाश गंगा कैसे बनी. हम जिस galaxy मे रहते है उसका नाम है. Milky way galaxy है.

चलिए अब थोड़ा गैलेक्सी के प्रकार के बारे मे discuss कर लेते है.

आकाश गंगा के प्रकार :(Types of galaxy )

जब वैज्ञानिक Hubble Telescopes से ब्रह्माण्ड मे झाँक रहे थे. तब उन्होंने लाखो आकाश गंगा (galaxy )के patterns को observe किया.

और वैज्ञानिक ने पाया की हम आकाश गंगा को उनकी patterns के आधार पर categorized कर सकते है.

अब तक हमने जितनी भी galaxy को देखा था.

उनमे दो तरह के patterns common थे. जिस base पर साइंटिस्ट ने इन्हें दो types मे divide कर दिया. Note: galaxy के और भी कई प्रकार है. पर यहां हम मुख्य two types की आकाश गंगा की चर्चा करेंगे.

1)Elliptical Galaxy :

इस तरह की आकाश गंगा देखने मे गोलाकार होती है. और किसी बॉल की तरह नजर आती है. इन्हें किसी भी angle पर देखने पर गोल या अंडाकार दिखती है.

2)Spiral Galaxy :


Spiral galaxy मे बहुत सारी भुजाये spiral करती हुई होती है. और यह galaxy के center से बाहर की तरफ निकली रहती है.
हमारी आकाश गंगा (milky-way galaxy )इन्ही spiral galaxy के श्रेणी मे आती है.

अब आगे हम जानेगे milky-way galaxy के बारे मे

मिल्की-वे आकाश गंगा क्या है ? (What is milky-way galaxy in hindi )

Milky-way galaxy लगभग मे लगभग 400 billion stars है.
milky-way galaxy का नाम लैटिन शब्द “Lactea” का translation है. जिसका basic अर्थ होता है. “दूध की नदी”.

1920 तक सभी का मानना था. की पूरे ब्रह्माण्ड मे केवल हमारी galaxy ही exist करती है.

लेकिन Edwin Hubble ने हमें बताया की हमारी आकाश गंगा universe की अरबो आकाश गंगा(akash ganga ) मे से एक है.

हमारी milky-way galaxy, spiral galaxy की श्रेणी मे आती है. जिस कारण इसके कई सारे arms मौजूद है.
इन arms का नाम :
1)Perseus Arm
2)Norma Arm
3)outer Arm
4)Scutum:Centaurus Arm
5)Carina :Sagittarius Arm
6)Orion : Cygnus Arm

हमारी मिल्की-वे galaxy की कुल 50 छोटी छोटी satellite galaxy मौजूद है. जो इसकी परिक्रमा कर रही है.

मिल्की-वे आकाश गंगा (akashganga)से सम्बंधित कुछ तथ्य
(Some facts about milky-way galaxy in hindi)

1)हमारी आकाश गंगा (galaxy ) की उम्र 13.21 billion years है. और यह galaxy ब्रह्माण्ड के कुछ शरुआती galaxy मे से एक है.

2)Milky-way galaxy का व्यास औसतन 1, 400, 000 प्रकाश वर्ष है.

3)एक calculation के अनुसार हमारी मिल्की-वे galaxy मे लगभग 100 billion star मौजूद है.

4) हमारी मिल्की-वे galaxy का mass
15 हजार अरब सूर्य के बराबर है.

5) Milky-way galaxy ब्रह्माण्ड मे 600 किलोमीटर /सेकंड से घूम रही है.

6)हमारी आकाश गंगा (milky-way) के centre मे एक super massive blackhole है. जिसे हम Sagittarius A* के नाम से जानते है.

7)हमारा solar system हमारे आकाश गंगा(akash ganga ) के Orion Cygnus Arm मे मौजूद है.

8)हमारा Solar system आकाश गंगा के center से 25, 000 प्रकाश वर्ष दूर है.

9)हमारा solar system आकाश गंगा की परिक्रमा 230 किलोमीटर /सेकंड की रफ़्तार से कर रहा है.
एक परिक्रमा पूरा करने मे 24, 00, 00, 000 साल लगे जाते है.

अब आगे हम जानेगे. Andromeda galaxy के बारे मे,

Andromeda galaxy क्या है? (What is Andromeda akashganga in hindi )

Andromeda galaxy जिसे हमें Messier 31 (M 31) के नाम से जानते है. यह एक spiral galaxy है. जो पृथ्वी से 2.5 million प्रकाश वर्ष दूर है.

Andromeda galaxy हमारी आकाश गंगा से सबसे नजदीकी आकाश गंगा है. इस galaxy का औसत व्यास 2, 200, 000 प्रकाश वर्ष है.
जो मिल्की-वे galaxy के दुगने से भी ज्यादा है.

सन 2006 मे scientists ने एक telescopes के अध्ययन के आधार पर अनुमान लगाया की Andromeda galaxy मे लगभग 1 trillion तारे मौजूद हो सकते है.

जबकि हमारी आकाश गंगा(akash ganga ) मे 100 मिलियन से 400मिलियन तारे मौजूद है.

Andromeda galaxy का औसत Mass सूर्य के Mass से लगभग 1 खरब गुणा ज्यादा है.

Andromeda galaxy का निर्माण कई छोटे-छोटे galaxies के टकराव और फिर उनके merge होने से हुआ है.

Andromeda galaxy का सबसे पहला जिक्र सन 964 के Al-Rehman Al-Sufi अपनी किताब “Book of Star ” मे जिक्र किया था.

फिर सन 1612 मे जर्मन खगोल वैज्ञानिक ने इसे पहली बार telescopes से देखा. इसी वजह से इसके खोज का श्रेय Simon Marius को ही माना जाता है.

यह galaxy इतनी विशाल है. की इसके gravity के प्रभाव मे आकर अन्य छोटी – छोटी galaxies भी इसको orbit कर रही है.

अब तक हम 15 ऐसी galaxy का पता लगा चुके है. जो andromeda galaxy का पता लगा चुके है.

हर galaxy की तरह andromeda galaxy के center मे भी एक super massive blackhole है.

Andromeda galaxy जिसे हमें Messier 31 (M 31) के नाम से जानते है. यह एक spiral galaxy है. जो पृथ्वी से 2.5 million प्रकाश वर्ष दूर है.

Andromeda galaxy हमारी आकाश गंगा(akashganga) से सबसे नजदीकी आकाश गंगा है. इस galaxy का औसत व्यास 2, 200, 000 प्रकाश वर्ष है.
जो मिल्की-वे galaxy के दुगने से भी ज्यादा है.

सन 2006 मे scientists ने एक telescopes के अध्ययन के आधार पर अनुमान लगाया की Andromeda galaxy मे लगभग 1 trillion तारे मौजूद हो सकते है.

जबकि हमारी आकाश गंगा मे 100 मिलियन से 400मिलियन तारे मौजूद है.

Andromeda galaxy का औसत Mass सूर्य के Mass से लगभग 1 खरब गुणा ज्यादा है.

Andromeda galaxy का निर्माण कई छोटे-छोटे galaxies के टकराव और फिर उनके merge होने से हुआ है.

Andromeda galaxy का सबसे पहला जिक्र सन 964 के Al-Rehman Al-Sufi अपनी किताब “Book of Star ” मे जिक्र किया था.

फिर सन 1612 मे जर्मन खगोल वैज्ञानिक ने इसे पहली बार telescopes से देखा. इसी वजह से इसके खोज का श्रेय Simon Marius को ही माना जाता है.

यह galaxy इतनी विशाल है. की इसके gravity के प्रभाव मे आकर अन्य छोटी – छोटी galaxies भी इसको orbit कर रही है.

अब तक हम 15 ऐसी galaxy का पता लगा चुके है. जो andromeda galaxy का पता लगा चुके है.

हर galaxy की तरह andromeda galaxy के center मे भी एक super massive blackhole है.

तो friends ये article”आकाश गंगा क्या है ? हमारी Galaxies कैसे बनी ? “पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया. उम्मीद करता हुँ. कि इस article से आपको बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा.

यह आपको अच्छा लगा है. तब please comments करें इससे मुझे motivation मिलेगा.