कोयला क्या है, कोयला कैसे बनता है, कोयला के बारे में बेसिक जानकारी(What Coal in hindi)

You are currently viewing कोयला क्या है, कोयला कैसे बनता है, कोयला के बारे में बेसिक जानकारी(What Coal in hindi)

अत्यंत प्राचीनकाल में अनेक जंगल जब पृथ्वी की सतह से नीचे चले गए तब पृथ्वी के अंदर गर्मी, ऊपरी सतह के विशाल दाब तथा हवा के अभाव में पेड़-पौधों के अपघटन के फलस्वरूप कोयले(Coal in hindi)का निर्माण हुआ इस कोयले को खनिज कोयला भी कहते हैं।

इसमें 60-90% मुक्त कार्बन तथा उसके यौगिक के अतिरिक्त नाइट्रोजन, गंधक, लोहा आदि के यौगिक भी उपस्थित रहते हैं।.ईंधन के रूप में इसका विस्तृत उपयोग होता है।

कोयला के प्रकार-Types of coal in hindi

कोयला मुख्यत: तीन प्रकार का होता है-

(a) लिग्नाइट (Lignite coal in hindi)-

इसमें 67% कार्बन, 19% वाष्पशील पदार्थ और लगभग 43% नमी रहती है।

(b) ऐन्थासाइट (Anthracite coal in hindi)-

इसमें 94% कार्बन, 1% वाष्पशील पदार्थ तथा 3% नमी रहती है।

(c) बिटुमिनस कोयला (Bituminous coal in hindi) –

इसमें 88% कार्बन रहता है। यह सबसे प्रमुख ईंधन माना जाता है।कोयले(Coal in hindi) का भंजक आसवन या स्रवण (Destructive Distillation of Coal)-वायु की अनुपस्थिति में कोयले को गर्म करने पर कोक, अलकतरा.और कोल गैस प्राप्त होते हैं। इस प्रक्रिया को कोयले का भंजक आसवन या
स्रवण कहते हैं।

कोक (Coke in hindi)-

कोक में लगभग 85-90% कार्बन रहता है। यह एक अच्छा ईंधन है जिसके जलने पर अत्यन्त अल्प मात्रा में धुआँ निकलता है। लेकिन ईंधन के रूप में इसका इस्तेमाल नहीं किया जाता, क्योंकि यह महँगा होता है। अयस्कों से धातुओं के निष्कर्षण में इसका उपयोग अवकारक के रूप में किया जाता है। इससे भाप-अंगार गैस तथा वायु अंगार गैस भी बनायी जाती हैं।

अलकतरा(Coal tar) –


यह अनेक कार्बनिक यौगिकों का मिश्रण होता है। पहले अलकतरा से बहुत से कार्बनिक यौगिक तैयार किए जाते थे जिनका उपयोग रंग और पेंट में, विस्फोटक पदार्थ के रूप में, संश्लेषिक रेशा बनाने में, ड्रग के रूप में तथा कीटाणुनाशक के रूप में होता था। किन्तु आजकल इन पदार्थों को पेट्रोलियम से प्राप्त किया जाता है।

कोल गैस (Coal gas)-

यह मुख्यत: हाइड्रोजन, मिथेन और कार्बन मोनोक्साइड का मिश्रण है। यह मिश्रण एक अत्युत्तम ईंधन है। इसका उपयोग पहले घरों और कल-कारखानों में रोशनी करने में होता था। 1950 ई. तक मुम्बई के गलियों में रोशनी करने के लिए इसी गैस का इस्तेमाल होता है। अभी हाल तक घरों में खाना बनाने के लिए भी इस गैस का व्यवहार होता था।

यह article “कोयला क्या है, कोयला कैसे बनता है, कोयला के बारे में बेसिक जानकारी (What Coal in hindi ) “पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया उम्मीद करता हुँ। कि इस article से आपको बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा।