उत्क्षेप क्या है उत्क्षेप की परिभाषा -Upthrust in hindi

उत्क्षेप क्या है उत्क्षेप की परिभाषा -Upthrust in hindi

उत्क्षेप क्या है

Upthrust in hindi

उत्क्षेप की परिभाषा(Upthrust)-“जब कोई वस्तु किसी द्रव में डुबाई जाती है, तो द्रव द्वारा उस वस्तु पर एक बल ऊपर की ओर लगता है, जिसे उस द्रव का उत्प्लावन बल (buoyancy force) अथवा उत्क्षेप कहते हैं।”

उत्प्लावन केन्द्र (Centre of Buoyancy)-उछाल, वस्तु द्वारा हटाए गए द्रव के भार के बराबर होता है तथा हटाए गए द्रव के गुरुत्व-केन्द्र से होकर ऊपर की ओर कार्य करता है, उस बिंदु को द्रव का उत्प्लावक केन्द्र कहते हैं।’

सूत्र रूप में,

{\displaystyle F_{\mathrm {buoyancy} }=-\rho Vg\,}जहाँ V वस्तु का वह आयतन है जो तरल में डूबा है, या तरल के अन्दर है।p = तरल का घनत्व तथा g = गुरुत्व जनित त्वरण

•द्रव के उछाल के कारण ही पानी में डूबी हुई वस्तु के भार में कमी प्रतीत होती है।

उत्क्षेप की व्याख्या-Explanation of Upthrust in hindi

जब हम लकड़ी के एक टुकड़े को पानी के अन्दर डुबाते हैं तो हमें उस पर नीचे की ओर एक बल लगाना पड़ता है। पानी के अन्दर किसी गहराई पर ले जाकर जब हम इस बल को हटा लेते हैं तो टुकड़ा स्वत: ऊपर आकर पानी की सतह पर तैरने लगता है।

इससे यह प्रतीत होता है कि जब कोई वस्तु किसी द्रव में डुबोई (Upthrust in hindi)जाती है तो उस पर ऊपर की ओर एक बल कार्य करता है। इसी प्रकार कुयें से पानी खींचते समय हम अनुभव करते हैं

कि जब तक बाल्टी कुयें के पानी में डूबी रहती है, वह हल्की प्रतीत होती है तथा ज्यों ही पानी से बाहर हवा में आती है तो भारी प्रतीत होने लगती है। इससे यह प्रतीत होता है कि जब कोई वस्तु किसी द्रव में डुबोई जाती है, तो उस पर ऊपर की ओर एक बल कार्य करता है,

जिसके कारण वस्तु अपने वास्तविक भार से कुछ हल्की महसूस होती है। द्रव के इस गुण को जिसके कारण वह वस्तुओं पर ऊपर की ओर एक बल लगाता है, उत्क्षेप या उत्प्लावन बल कहते हैं।

अब प्रश्न यह उठता है कि लकड़ी का टुकड़ा पानी में डुबोकर छोड़ देने पर वह सतह पर आकर तैरता रहता है परन्तु लोहे की कील पानी में क्यों डूब जाती है ? इसका कारण है कि जब कोई वस्तु किसी द्रव में डुबोई जाती है, तो उसका भार अर्थात् गुरुत्वीय बल नीचे की ओर कार्य करता है तथा उत्प्लावन बल ऊपर की ओर कार्य करता है। इन दोनों बलों का परिणामी जिस दिशा में कार्य करता है,

उसी दिशा में वस्तु गति करती है। यदि दोनों बलों का परिणामी द्रव में ऊपर की ओर कार्य करता है तो वस्तु ऊपर आयेगी और यदि परिणामी नीचे की ओर कार्य करता है तो वस्तु नीचे जाकर डूब जायेगी। लकड़ी के टुकड़े में यह परिणामी ऊपर की ओर तथा लोहे की कील में यह नीचे की ओर कार्य करता है।

यह article “उत्क्षेप क्या है उत्क्षेप की परिभाषा -Upthrust in hindi ” पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया उम्मीद करता हुँ। कि इस article से आपको बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा।