न्यूट्रॉन (Neutron in Hindi) क्या है। न्यूट्रॉन की खोज किसने की(neutron Ki Khoj Kisne ki) न्यूट्रॉन के बारे में जानकारी

You are currently viewing न्यूट्रॉन (Neutron in Hindi) क्या है। न्यूट्रॉन की खोज किसने की(neutron Ki Khoj Kisne ki) न्यूट्रॉन के बारे में जानकारी

काफी लंबे समय तक हमारा वैज्ञानिक समुदाय यह मानता रहा की परमाणु के नाभिक में केवल प्रोटोन ही रहता है। लेकिन 1932 ई में हमारा यह भ्रम टूट गया। जब सर जेम्स चैडविक ने न्यूट्रॉन (Neutron in Hindi)की खोज की। न्यूट्रॉन की खोज(neutron Ki Khoj Kisne ki) के बाद हमारे हाथ वह हथियार लगा जिसमें परमाणु को तोड़ देने की ताकत थी। इसके बाद मानो विज्ञान जगत में एक क्रांति आ गई।

न्यूट्रॉन क्या है- Neutron in Hindi

Neutron in Hindi

न्यूट्रॉन एक subatomic particle है। जो परमाणु के नाभिक में प्रोटोन के साथ स्थित रहता है इस पर कोई आवेश नहीं होता। शायद यही कारण है कि यह बिना रोक-टोक के परमाणु के अंदर कहीं भी आ जा सकता है। इसी कण के फलस्वरुप वैज्ञानिको ने परमाणुओं को विखंडित करने में सफलता हासिल की।

न्यूट्रॉन की खोज कैसे हुई- Discovery of proton in Hindi

किसी तत्व के परमाणु का परमाणु द्रव्यमान (हाइड्रोजन तत्व को छोड़कर) उसके नाभिक में उपस्थित कुछ प्रोटॉन के द्रव्यमान से अधिक (लगभग दोगुना) होता है। इससे मोटे तौर पर यह निष्कर्ष निकाला गया कि परमाणु के नाभिक में कुछ ऐसे कण उपस्थित होते हैं जिनके द्रव्यमान
प्रोटॉन के लगभग बराबर होता है एवं विद्युत उदासीन होता है अर्थात् इसपर किसी प्रकार का आवेश नहीं रहता है।

लेकिन प्रायोगिक तौर पर जेम्स चैडविक ने सन् 1932 ई० में बेरीलियम (Be) धातु के पत्तर पर अल्फा कणों के आघात से एक विशेष प्रकार के कणों का पता लगाया जिनपर कोई आवेश नहीं था।

इन कणों की विद्युत उदासीनता के कारण इसका नाम न्यूट्रॉन रखा। इस प्रकार उदासीन मौलिक अथवा अपरमाणुक कण न्यूट्रॉन (Neutron in Hindi)कहलाता है।

न्यूट्रॉन के गुणधर्म-Properties of the neutron

न्यूट्रॉन के मुख्यतः निम्नलिखित गुणधर्म होते हैं-

(i) ये उदासीन (आवेशरहित) कण होते हैं।

(ii) इसका द्रव्यमान प्रोटॉन के द्रव्यमान के लगभग बराबर होता है। एक न्यूट्रॉन का निरपेक्ष
द्रव्यमान 1.675 x 10^-24 ग्राम होता है।

(iii) एक न्यूट्रॉन का सापेक्ष द्रव्यमान 1,00874 = 1 u होता है।

(iv) न्यूट्रॉन परमाणु के नाभिक में प्रोटॉन के साथ उपस्थित रहता है। इस प्रकार किसी तत्व के परमाणु का वह सूक्ष्मतम अवपरमाणुक अथवा मौलिक कण जो परमाणु के नाभिक में प्रोटॉन के साथ रहता है और जिनके ऊपर कोई आवेश नहीं रहता है, न्यूट्रॉन कहलाता है। इसे n अथवा 1 से दर्शाया जाता है। यह तीन मौलिक कण इलेक्ट्रॉन,प्रोटॉन एवं न्यूट्रॉन में सबसे भारी है। हाइड्रोजन परमाणु को छोड़कर अन्य सभी तत्व के परमाणु में न्यूट्रॉन पाये जाते हैं।

यह article “न्यूट्रॉन (Neutron in Hindi) क्या है। न्यूट्रॉन की खोज किसने की(neutron Ki Khoj Kisne ki) न्यूट्रॉन के बारे में जानकारी” पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया उम्मीद करता हुँ। कि इस article से आपको बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा