Corrosion का हिन्दी मतलब, परिभाषा, उपयोग(Corrosion meaning in hindi)

Corrosion का हिन्दी मतलब, परिभाषा, उपयोग(Corrosion meaning in hindi)

Hello दोस्तों आज इस आर्टिकल मे हम समझेंगे । Corrosion meaning in hindi क्या होता है। Corrosion का मतलब क्या होता है। Corrosion क्या है, meaning of Corrosion क्या है। Corrosion कैसे बनते है। अगर आपको Corrosion से जुडी ज्यादा जानकारी नहीं है तब आप बिल्कुल सही जगह आये है।

Corrosion का हिन्दी मतलब – संक्षारण,क्षय, विनाशन, ह्रास

धातुओं का संक्षारण(Corrosion of Metals) )

धातुओं का संक्षारण प्रकृति में होनेवाली एक अवांछनीय प्रक्रिया है। यह प्रक्रिया धातु की ऊपरी सतह पर होती है। इसके कारण धातु की सतह पर छोटे-छोटे छिद्र बन जाते हैं और थातु की मजबूती घटने लगती है। धातु की अभिक्रिया वायु में उपस्थित ऑक्सीजन एवं जलवाष्प के साथ होने पर यह क्रिया होती है।

कुछ धातुओं की सतह पर उनके ऑक्साइडों की परत बन जाती है। ऑक्सीजन के अतिरिक्त वायु में उपस्थित कार्बन डाइऑक्साइड,सल्फर डाइऑक्साइड या हाइड्रोजन सल्फाइड आदि भी धातु से अभिक्रिया करके उसे कमजोर बना देते हैं। इससे धातु का धीरे-धीरे क्षय होने लगता है। लोहे के संक्षारण को जंग लगना भी कहते हैं।

जंग वस्तुतः फेरिक ऑक्साइड (Fe203) एवं फेरिक हाइड्रॉक्साइड [Fe(OH)3] का सम्मिश्रण है। जंग लगना एक ऑक्सीकरण-अवकरण अभिक्रिया है। धातु की सतह पर वायु के ऑक्सीजन, कार्बन डाइऑक्साइड, जलवाष्प, सल्फर डाइऑक्साइड, हाइड्रोजन सल्फाइड आदि की अभिक्रिया के फलस्वरूप धातु का क्षय धातु का संक्षारण कहलाता है।

-(i) लोहे के एक टुकड़े को आर्द्र वायु में कुछ दिनों तक खुला छोड़ देने पर उसकी सतह पर भूरे रंग की एक परत बन जाती है जिसे जंग कहते हैं। इस क्रिया को जंग लगना या लोहे का संक्षारण (rusting or Corrosion of iron) कहते हैं।

यह जंग धीरे-धीरे भुरभुराकर गिरते जाता है जिससे भीतर के लोहा में भी जंग लगने लगता है। फलतः, संपूर्ण लोहा कुछ समय के पश्चात जंग के कारण नष्ट हो जाता है।

(ii) ताँबा के एक टुकड़े को आर्द्रवायु में लंबे समय तक खुला छोड़ देने पर उसकी सतह पर हरे रंग की एक परत बैठ जाती है।वस्तुतः, भास्मिक कॉपर कार्बोनट, Cuco3, · Cu(OH)2, बनने के कारण उसकी सतह पर हरापन आ जाता है। किसी बरतन पर बने इस भास्मिक कॉपर कानिट को दूर करने के लिए बरतन को नींबू या इमली के रस के साथ रगड़ा जाता है, क्योंकि इन रसों में अम्ल की उपस्थिति होने के कारण भस्म आसानी से अभिक्रिया करके दूर हो जाता है एवं बरतन का हरापन गायब हो जाता है।

संक्षारण रोकने के उपाय

  1. धातु की सतह पर लेप चढ़ाकर-धातु की बाहरी सतह पर ग्रीज या वार्निश की एक पतली परत चढ़ा देते हैं। यह परत धातु को वायु या जलवाष्प के संपर्क से वंचित कर देती है जिसके कारण उसका संक्षारण रुक जाता है।
  2. धातु द्वारा स्वयं रक्षा कवच बना लेना-कुछ धातुएँ अपनी सतह पर स्वयं अपना रक्षा कवच तैयार कर लेती है। उदाहरण के लिए,

ऐनोडीकरण (Anodising)-

ऐलुमिनियम धातु को खुली हवा में छोड़ देने पर उसकी सतह पर उसके ऑक्साइड की एक परत बैठ जाती है। इसी परत के कारण ऐलुमिनियम धातु का संक्षारण आगे रुक जाता है। इस परत को अधिक मोटा बनाकर धातु की मजबूती बढ़ायी जा सकती है। इसके लिए ऐलुमिनियम का ऐनोडीकरण किया जाता है।

रंगाई करके.

धातु की सतह को किसी अम्ल अवरोधक रंग (paint) से रंगाई कर देने से धातु वायु या किसी विलयन के प्रभाव
से बच जाती है।

जस्तीकरण करके

धातु की किसी वस्तु को पिघले हुए डुबा की सतह पर जस्ता की एक परत बैठ जाती है। इसे वस्तु का जस्तीकरण (galvanisation) कहते हैं एवं वह वस्तु जस्तीकृत (galvanised) कहलाती है। लोहे का जस्तीकरण कर देने पर उसका संक्षारण रुक जाता है,क्योंकि जस्ता लोहे की अपेक्षा अधिक क्रियाशील होता है।फलतः, वायु का प्रभाव जस्ता पर ही पड़ता है, लोहा पर नहीं।

विद्युतलेपन द्वारा

वैद्युत अपघटन क्रिया द्वारा किसी धातु पर किसी अन्य धातु का लेप चढ़ाना विद्युतलेपन (electroplating) कहलाता है। किसी धातु का संक्षारण रोकने के लिए उस धातु की सतह पर टिन(sn), निकल (Ni), क्रोमियम(Cr), तांबा आदि धातुओं की पर चढ़ाना Chrome plating कहलाता है।

दिल्ली का लौह-स्तंभ

दिल्ली में कुतुबमीनार के निकट 8 मीटर ऊँचाई और 6000 kg वजन वाला ऐतिहासिक लौह-स्तंभ 2000 वर्ष पुराना होने के बावजूद अपनी पूर्व अवस्था में ही ज्यों-का-त्यों कायम है। यह संक्षारण या जंग से आज भी मुक्त है।

यह स्तंभ पिटवाँ लोहे का बना हुआ इस्पात है जिसका संक्षारण बहुत-ही धीरे-धीरे होता है। इस स्तंभ की बाहरी सतह पर लोहे के चुंबकीय ऑक्साइड की एक पतली परत जम जाने के कारण इसका संक्षारण बाधित हो गया है। इसके अतिरिक्त, ऐसा अनुमान है कि इसकी बाहरी सतह को कुछ विशेष प्रकार के संक्षारण-रोधी लवणों के मिश्रण से पुताई कर खूब गर्म करके एकाएक ठंडाकर दिया गया है

जिससे यह आज भी संक्षारण के दुष्प्रभाव से वंचित है। इससे पता चलता है कि पुराने समय में भी हमारे भारत के लोगों को संक्षारण रोकने के कुछ उपायों की जानकारी थी।

corrode meaning in hindi,corrosion meaning hindi,corrosion meaning in chemistry in hindi,corrosive girl meaning in hindi,corrosion hindi,corrode metal meaning in hindi,non corrosive meaning in hindi,non corrosion resistant meaning in hindi,corrosion meaning on hindi,corroded meaning on hindi

यह article “Corrosion का हिन्दी मतलब, परिभाषा, उपयोग(Corrosion meaning in hindi)“पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया उम्मीद करता हुँ। कि इस article से आपको बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा।