Wind का हिंदी मतलब क्या होता है(About wind meaning in hindi)

You are currently viewing Wind का हिंदी मतलब क्या होता है(About wind meaning in hindi)

Wind का हिंदी मतलब वायु,हवा,पवन,वात, इत्यादि है

About wind meaning in hindi-वायु समाप्त नहीं होने वाली प्राकृतिक संपदा है। इसके बिना जीवित रहना संभव नहीं है। जीव वायु से ऑक्सीजन प्राप्त करते हैं जो भोज्य पदार्थों के ऑक्सीकरण द्वारा उन्हें ऊर्जा आपूर्ति में सहायता करती है।

पौधे वायु से कार्बन डाइऑक्साइड प्राप्त कर उनसे प्रकाश संश्लेषण द्वारा भोज्य पदार्थ (स्टार्च) का निर्माण करते हैं। वायु अनेक गैसों का मिश्रण है। सभी गैसें एक निश्चित अनुपात में वायु में मौजूद रहती हैं। वायुमंडल के मुख्य घटक ऑक्सीजन, कार्बन डाइऑक्साइड, नाइट्रोजन, जलवाष्प तथा लटके हुए धूलकण आदि हैं।

वायु में सम्मिलित विभिन्न गैसों की औसत संरचना इस प्रकार है-

नाइट्रोजन 78.09%
ऑक्सीजन 20.93%
ऑर्गन 0.93%
कार्बन-डाइऑक्साइड 0.03%
हीलियम 0.00052%
हाइड्रोजन 0.00005%
अन्य 0.01943%

पृथ्वी ग्रह चारों ओर से बहुस्तरीय गैसीय आवृत्त से घिरी हुई है जिसे वायुमंडल कहा जाता है, अर्थात् वायुमंडल एक रक्षात्मक (protective), पारदर्शक(transparent), बहुस्तरीय (multi-layered) गैसों का बना हुआ आवृत्त (envelope) है जो पृथ्वी को चारों ओर से घेरे रहता है।

यह गुरुत्वाकर्षण बल (gravitational force) के द्वारा पृथ्वी से बँधा हुआ होता है। वायुमंडल(About wind meaning in hindi) का क्षेत्र पृथ्वी की सतह से लगभग 280 किमी की ऊँचाई तक होता है, परंतु 95% गैसों की मात्रा सिर्फ 8 से 20 किमी की ऊँचाई तक ही सीमित रहती है। इसके ऊपर वायु एकदम विरल हो जाती है।

पृथ्वी की सतह से ऊपर की ओर बढ़ते हुए वायुमंडल की पाँच परतें होती हैं जिन्हें क्रमशः ट्रो पोस्फियर (क्षोभमंडल), स्ट्रैटो स्फियर (समतापमंडल), मेसो स्फियर (मध्यमंडल), आयनोस्फियर (ऑयनमंडल) और एक्सोस्फियर (बहिर्मंडल) कहा जाता है।

क्षोभमंडल वायुमंडल का सबसे निचला स्तर या क्षेत्र है। यह सतह से 20 किमी ऊँचाई तक होता है और इसी क्षेत्र में बादल बनने और बिजली चमकने की घटनाएँ होती हैं। क्षोभमंडल के ऊपर समतापमंडल होता है जो क्षोभमंडल से लगभग 30 किमी ऊपर तक फैला हुआ होता है।

इसी स्तर में ओजोन गैस (ozone gas) की अधिक मात्रा मौजूद होती है जो सूर्य से आने वाली पराबैंगनी किरणों (ultra violet rays) को अवशोषित कर उन्हें पृथ्वी की सतह पर पहुँचने से रोकती है।

वायु का महत्त्व (Importance of wind)

  1. वायु हमारे वातावरण की गुणवत्ता (quality) को नियंत्रित करती है।
  2. यह श्वसन के लिए जीवों को ऑक्सीजन उपलब्ध कराती है और पौधों के प्रकाश संश्लेषण के लिए कार्बन डाइऑक्साइड।
  3. जीवों के शरीर में श्वसन द्वारा ग्रहण किए गए ऑक्सीजन के कारण ही भोज्य पदार्थों का ऑक्सीकरण होता है तथा जैव क्रियाओं के संपादन के लिए ऊर्जा की आपूर्ति होती है।
  4. वायु आग जलाने अर्थात् दहन के लिए आवश्यक है।
  5. वायु पृथ्वी के तापक्रम को नियंत्रित रखती है।
  6. वायु परिवहन का साधन है।
  7. वायु द्वारा ही उड़ने वाले जंतु जैसे कीट एवं चिड़ियाँ उड़ पाते हैं।
  8. वायु के बिना बादल बनने तथा वर्षा होने की क्रिया संभव नहीं है।

शुक्र ग्रह (Venus) पर जीवन नहीं होने का कारण यह है कि वहाँ के वायुमंडल में 95 से 97% तक CO; है, जबकि पृथ्वी पर केवल 0.03% ही CO, है। पौधों द्वारा कार्बन डाइऑक्साइड का के समुद्री जल में जाने के कारण उपयोग प्रकाश संश्लेषण के लिए किए जाने और अधिक CO, पृथ्वी पर Co, की मात्रा स्थिर बनी रहती है।

यह article “Wind का हिंदी मतलब क्या होता है (About wind meaning in hindi)“पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया उम्मीद करता हुँ। कि इस article से आपको बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा।