इस्पात के बारे मे बेसिक जानकारी -About steel in hindi

You are currently viewing इस्पात के बारे मे बेसिक जानकारी -About steel in hindi

इस्पात यह लोहे का एक प्रकार है जिसमें 0.5 से 1.5 प्रतिशत तक लोहा(steel in hindi)पाया जाता है। यह मृदु क्रिस्टलीय तथा चमकदार होता है जिसे आसानी से पीटकर मोड़ा जा सकता है। यह मुख्यतः पिटवाँ लोहे तथा ढलवाँ लोहे से बनाया जाता है कार्बन की मात्रा के आधार पर यह तीन प्रकार का होता है।

1)मृदु इस्पात

इसमें कार्बन की मात्रा 0.15 प्रतिशत होती है। इसका उपयोग वेल्डिंग करने में होता है।

2)मध्यम इस्पात

इसमें कार्बन की मात्रा 0.15 से 0.6 प्रतिशत तक होती है। इसका उपयोग रेल उद्योग तथा संरचनात्मक कार्यों मे होता है।

3)अधिक कार्बनयुक्त इस्पात

इसमें कार्बन की मात्रा 0.6% से 1.5% तक होती है। इसका उपयोग रेजर तथा शल्य क्रिया में काम आने वाले यन्त्र बनाने में होता है। इसके अलवा बहुत उच्च कोटि के इस्पात(steel in hindi)निकिल, मैंगनीज, टंगस्टन, क्रोमियम इत्यादि धातुओं के मिश्रधातु के रूप में प्राप्त किये जाते हैं जिनका उपयोग वायुयान, बाल बेयरिंग, अम्ल के पात्र, घड़ी इत्यादि को बनाने में होता है।

लोहा (Iron)-

लोहा(steel in hindi) मुक्त अवस्था में बहुत कम पाया जाता है। हेमेटाइट, मैग्नेटाइट, आयरन पायराइटीन आदि इसके प्रमुख अयस्क हैं। हेमेटाइट के रूप में यह भारत में सिंहभूमि, मयूरभंज, मैसूर आदि स्थानों में पाया जाता है।

भारत में, टाटा आयरन एण्ड स्टील कं० , मैसूर आयरन वर्कस, इण्डियन आयरन एण्ड स्टील कम्पनी कुलटी आदि लोहे के प्रमुख कारखाने हैं। लोहे में उपस्थित कार्बन के आधार पर यह, ढलवाँ (Cast), पिटवाँ (Wrough) व स्टील (Steel) तीन प्रकार का होता है।

इसका रंग धूसर होता है व क्वथनाँक 2800°C होता है।ढलवाँ, पिटवाँ व स्टील(steel in hindi) में पायी जाने वाली कार्बन व अन्य तत्वों की मात्रा तथा इनके गुण व उपयोग निम्न सारणी प्रदर्शित है-

गुणढलवा लोहापिटवा लोहास्टील
1.कार्बन की मात्रा2 से 2.5%0.12 से 0.24%0.5 से 1.5%
2.मैगनीज0.3%0.14%0.13%
3.सिलिकॉन0.2% से 1%0.14%0.03%
4.सल्फर0.1%0.14%
5.कठोरताकठोरकठोरमृदु
6.रूपताक्रिस्टलीयरेशा युक्तक्रिस्टलीय
7.उपयोगढलाई, इस्पात और पिटवा लोहा बनाने मेतार,विद्युत चुंबक बनाने मेबर्तन, चाकू, चुम्बक बनने मे

यह article “इस्पात के बारे मे बेसिक जानकारी -About steel in hindi “पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया उम्मीद करता हुँ। कि इस article से आपको बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा।