Thermal scanner क्या है। वायरस का पता कैसे लगाता है?

Thermal scanner क्या है। वायरस का पता कैसे लगाता है?

दोस्तों दिसंबर 2019 में शुरू हुआ coronavirus आज 150 से ज्यादा देशों में फैल चुका है और विश्व में से प्रभावित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। हालांकि इस वायरस को फैलने से बचाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। साथ ही दूसरे देशों से आने वाले लोगों का thermal scanning किया जा रहा है। आज की शक्ल में हम जाने वाले हैं इसी थर्मल स्कैनर के बारे में, यह कैसे काम करता है और वायरस का पता कैसे लगाता है।

Thermal scanner क्या है।

दोस्तों thermal scanner एक तरह का electronic device है जो शरीर के तापमान का अनुमान लगाकर thermal image तैयार करता है। अब यदि किसी व्यक्ति का तापमान सामान्य से ज्यादा होता है तो यह device ध्वनि के माध्यम से indicate करता है। thermal scanner 40 डिग्री सेल्सियस से लेकर 500 डिग्री सेल्सियस तक के तापमान को माप सकता है।

Thermal scanner वायरस का पता कैसे लगाता है?

दोस्तों जिस व्यक्ति के शरीर में virus की संख्या ज्यादा खतरनाक स्तर पर पहुंच जाता है। उनके शरीर का तापमान भी काफी हद तक बढ़ जाता है। अब thermal scanner शरीर के तापमान को display पर दिखाता है। जिससे संदिग्ध व्यक्तियों की पहचान कर ली जाती है। दोस्तों यह device मुख्य रूप से airport और भीड़ वाली जगहों पर लगाई जाती है।

यह article “Thermal scanner क्या है। वायरस का पता कैसे लगाता है? ” पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया उम्मीद करता हुँ। कि इस article से आपको बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा