Artificial Intelligence क्या है और कैसे काम करता है?

Artificial Intelligence क्या है और कैसे काम करता है?

Artificial intelligence

विज्ञान ज्ञान कि वह विशिष्ट विधा है जिसके संपर्क मे मनुष्य जब से आया, तब से ही विज्ञान और मनुष्य दोनों ही एक दूसरे के पूरक बन विकास के पथ पर आगे बढ़ते चले जा रहे है आज विज्ञान का कोई ऐसा क्षेत्र नही जहाँ विकास ना हुआ हो और समस्त जगत उसमे समाहित ना हुआ हो |विज्ञान का अथाह ज्ञान रखने वाले scientists ने समय -समय पर ऐसे नविन नियमो और सिद्धांतो कि खोज कि जिनके आधार पर नई technology और theory’s का जन्म हुआ |आज हम बात करने वाले है नई technology artificial intelligence के बारे मे ऐसे इसका इतिहास काफ़ी पुराना है…. हाल ही के कुछ सालो मे ये technology काफ़ी तेज़ी से developed हो रही है…

Content :

1)ai क्या है (what is artificiali ntelligence )
2)ai का इतिहास (history of artificial intelligence )
3)Machine Learning क्या है और कैसे काम करता है?
4)deep learning क्या है

1.ai क्या है (what is artificiali ntelligence)

जब हम किसी machine में इस तरह के program सेट करते हैं कि वह एक मनुष्य की भाती निर्णय ले सके, काम कर सके तब उसे artificial intelligence कहाँ जाता हैं |

अब तक जितनी भी मशीनें बनी हैं, वे पहले से निर्धारित काम को करती है. चाहे वह कारखाने हों, मोटर गाड़ी हो या computer हो. लेकिन अब मनुष्यों ने अपनी intelligence की मदद से ही मशीनों को बुद्धिमान बनाने में कामयाबी हासिल कर ली है. हालांकि यह technology अभी शुरुआती दौर में ही है, लेकिन इसके क्रांतिकारी नतीजे सामने आने शुरू हो गए हैं.

Artificial intelligence को कई विशेषज्ञो ने अपने अनुसार परिभाषित किया है..

Herbert A. Simon ( psychologist and political scientist) के अनुसार..
” प्रोग्रामो को बुद्धिमान तब माना जाता है जब वह वैसा behavior प्रदर्सित करें जैसा मनुष्य द्वारा किये जाने पर उन्हें बुद्धिमान माना जायेगा ”


Patrick H Winston (computer scientist and professor) के अनुसार..
” artificial intelligence उन विचारों का अध्यन है जो computer को बुद्धिमान बनने कि छमता प्रदान करती है “

Artificial intelligence ने सबसे कठिन माने जाने वाले खेल गो में चैंपियन इंसान को हराया. आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के मामले में इसे अभूतपूर्व कामयाबी बताया जा रहा है

स्टीफन होकिंग समेत कुछ बड़े वैज्ञानिक artificial intelligence के खतरे से भी आगाह करा रहे हैं. उनकी चेतावनी है कि लगातार बुद्धिमान होती मशीनें इंसान के नियंत्रण से बाहर होकर मानवता के लिए खतरा बन सकता है

2.AI का इतिहास (history of AI)

एनिग्मा मशीन military communication कि रक्षा के लिए शुरुवाती दिनों मे विकसित और उपयोग कि जाने वाली एक encrypted device थी इसे second world war के दौरान जर्मन सेना के सभी शाखाओ मे बड़े पैमाने पर use किया गया था
alan turing और उनकी टीम ने enigma के encrypted message को समझने के लिए bombe machine बनाई यह मशीन enigma के encrypted message को समझने मे सक्षम थी.. enigma और bombe machine ने ही सबसे पहले machine learning कि नीव रखी |

1956 मे american computer scientists john mcCarthy ने डार्टमऊथ सम्मलेन का आयोजन किया जिसमे artificial intelligence को पहली बार अपनाया गया| ai कि क्षमता का पता लगाने के लिए पूरे यूनाइटेड स्टेट मे pop up हुए उनका मानना था कि ai पुरी duniya को बदल सकता है आज हम जानते कि वो सही थे ai ने पुरी दुनिया को ही badal दिया |

ai के महत्व को असल मे 1970 के दशक me पहचाना गया जापान ऐसा देश रहा जिसने सबसे पहले इस और पहल कि उन्होंने fifth generation नाम से वर्ष 1981 मे योजना कि शरुवात कि थी जापानीयो के बाद अन्य देशो ने भी इस और ध्यान दिया |
बिच मे ai के ऊपर काफ़ी research हुए फिर deep blue सामने आया
deep blue , IBM द्वारा विकसित एक chess खेलने वाला computer था इसने पहली बार chess मे world champion kasparov को 10 february 1996 को 6 matches मे से एक मे हराया हलाकि kasparov ने 3 match मे जीत दर्ज कि और 2 match को draw किये

3)machine learning क्या है (what is machine learning )

Machine learning AI का ही एक application है जो system को ऐसी ability प्रदान करता है जिससे कंप्यूटर अपने पास पहले से मौजूद data के दम पर खुद- नई चीजों को सीखती है

*how does work machine learning (machine learning कैसे काम करता है )

   Machine learning नई चीजों को सिखने के लिए दो तरह कि techniques को use करता है 

(a)supervised learning

(b)unsupervised learning

(a)supervised learning एक ऐसी learning है जिसमे हम मशीन को supervised data या labeled data से train करते है इस training के बाद machine इस काबिल बन जाती है कि वह किसी अन्य input के बिना output का अनुमान लगा सके |

(b) unsupervised learning

unsupervised learning मे machine को इस तरह से train किया जाता है कि वह मौजूद data set मे similar data या pattern को पहचान सके और फिर है नये data piece मे इन समानता के होने या ना होने के आधार पर प्रतिक्रिया दे सके |इस training के दौरान machine इस काबिल हो जाती है कि वह अपने पुराने अनुभव के आधार पर problems को samajh सके |

4.Deep learning क्या है


Deep learning एक प्रकार से machine learning ही है जो machine को मानव जैसे काम करने के लिए तैयार करता है जैसे.. language को समझना, image को पहचान-ना या फिर अनुमान लगाना